Monday, November 23, 2020
Home देश पार्टी नेताओं के हमलों के बीच कपिल सिब्बल ने कही बड़ी बात,...

पार्टी नेताओं के हमलों के बीच कपिल सिब्बल ने कही बड़ी बात, ‘अब प्रभावी विपक्ष नहीं रही कांग्रेस’


नई दिल्ली
लोकसभा में कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जैसे दिग्गज नेताओं के हमलों के बीच पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने शीर्ष नेतृत्व पर फिर से हमला बोा। सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखने वाले ग्रुप-23 के इस दिग्गज नेता ने अब यहां तक कह दिया कि कांग्रेस पार्टी देश में असरदार विपक्ष नहीं रह गई है। उन्होंने यह बात एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में कही है।

‘सांगठनिक मजबूती का प्रयास ही नहीं कर रही है कांग्रेस’
सिब्बल ने दावा किया कि कांग्रेस अपने संगठन को मजबूत करने का कोई प्रयास नहीं कर रही है। उन्होंने एक साल से भी ज्यादा वक्त से कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव नहीं हो पाने का मुद्दा फिर से उठाते हुए पार्टी के कामकाज के तरीकों पर गहरी नाराजगी जाहिर की। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने डेढ़ साल पहले पार्टी का अध्यक्ष पद छोड़ा था। सिब्बल ने सवाल किया, ‘कोई राजनीतिक दल डेढ़ साल तक बिना किसी लीडर के कैसे काम कर सकता है… कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पता ही नहीं है कि उन्हें जाना कहां है।’

हम असरदार विपक्ष नहीं रहे: कांग्रेस
पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हालिया चुनावों से स्पष्ट हो गया कि यूपी जैसे राज्यों में कांग्रेस का कोई प्रभाव नहीं बचा है। इसके अलावा गुजरात और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में जहां कांग्रेस का सीधा मुकाबला बीजेपी से था, वहां नतीजे बेहद खराब आए। उन्होंने कहा, ‘हम गुजरात की सभी आठ सीटें हार गए। 65% वोट बीजेपी के खाते में चले गए जबकि ये सीटें पाला बदलने वाले कांग्रेसियों ने खाली की थीं। मध्य प्रदेश में सभी 28 सीटें कांग्रेस विधायकों के पाला बदलने के कारण ही खाली हुई थीं, लेकिन पार्टी सिर्फ आठ सीटें जीत पाई।’ सिब्बल ने कहा, ‘जहां भी सीधे बीजेपी से दो-दो हाथ होता है, हम वहां असरदार विकल्प साबित नहीं हो पा रहे हैं। कुछ-न-कुछ तो जरूर गलत हो रहा है। हमें इसे लेकर कुछ करना ही होगा।’

कांग्रेस में खींचतान: कपिल सिब्बल पर अब हमलावर हुए अधीर रंजन चौधरी, कहा- वो हमारे नेता नहीं

दूर नहीं हो रही सिब्बल की नाराजगी

सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल ने कहा कि उन्होंने जुलाई महीने में संसदीय समूह की मीटिंग में यह मुद्दा उठाया था। उसके बाद 23 नेताओं ने अगस्त में कांग्रेस प्रेजिडेंट को चिट्ठी लिखी, लेकिन कोई चर्चा नहीं हुई, हमसे किसी ने संपर्क नहीं किया। सिब्बल ने बिहार विधानसभा चुनाव और कुछ राज्यों में उपचुनावों में कांग्रेस के बेहद खराब प्रदर्शन का मुद्दा उठाया तो राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, लोकसभा में कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी और दिल्ली कांग्रेस प्रमुख अनिल चौधरी हमलावर हो गए। गहलोत ने ट्वीट किया, ‘कपिल सिब्बल को हमारे आंतरिक मसलों की मीडिया में चर्चा की कोई जरूरत नहीं थी। इसने देशभर में पार्टी कार्यकर्ताओं की भावनाओं को आहत किया है।’

सिब्बल के शीर्ष नेतृत्व पर सवाल उठाने पर भड़के गहलोत ने दी नसीहत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

इंटरमीडिएट जेट ट्रेनर की ताजा खबर

नई दिल्ली स्वदेशी इंटरमीडिएट जेट ट्रेनर का स्पिन फ्लाइट टेस्ट किया गया। यह एक अहम टेस्ट होता है। एचएएल ने स्वदेशी इंटरमीडिएट जेट...

cricket information Information : कोरोना काल में भी BCCI हुआ मालामाल, IPL 13 से कमाए हजारों करोड़ – ipl 13 bcci earned 4000 crore...

नई दिल्लीकोरोना वायरस (Coronavirus In India) ने पूरी दुनिया को अपनी जद में लिया। जिसके बाद से लोगों की जिंदगी घरों पर ही...

kangana ranaut property demolition matter: कंगना रनौत के ऑफिस तोड़फोड़ मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट 27 नवंबर को सुनाएगा फैसला – kangana ranaut property demolition...

बॉलिवुड ऐक्ट्रेस कंगना रनौत और बीएमसी के बीच विवाद काफी सुर्खियों में रहा है। दरअसल, बीएमसी ने कंगना रनौत के मुंबई स्थित ऑफिस...

Enterprise information Information : उमंग ऐप का अंतरराष्ट्रीय संस्करण विदेश जाने वाले भारतीय पर्यटक, छात्र, अन्य के लिए उपयोगी – worldwide model of umang...

डिसक्लेमर:यह आर्टिकल एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड हुआ है। इसे नवभारतटाइम्स.कॉम की टीम ने एडिट नहीं किया है।भाषा | Up to date:

Recent Comments